मेरी टीचर को दी चुदाई का मज़ा Teacher di Chudai ki Maza

मेरी टीचर को दी चुदाई का मज़ा

मेरी टीचर को दी चुदाई का मज़ा

मेरी टीचर को दी चुदाई का मज़ा Desi Kahani हेल्लो दोस्तों मेरा नाम शिव है मैं एक मध्यम बांधे का गेहूँवन का लड़का हूँ, मेरी उम्र 21 साल है | मैं आज आपको मैंने अपने इकोनॉमिकस की टीचर की चुदाई की तब की कहानी बताऊंगा…यह टीचर का नाम प्रियंका है | Sexy Story वैसे तो मैं कोलेज के पिछले दो सालो मैं कितनी ही इंडियन औरत और इंडियन गर्ल्स की चुदाई कर चूका था लेकिन मेरे लिए यह इंडियन चूत बहुत अलग थी और यह इंडियन चूत शायद मैं जिंदगी भर याद रखूँगा | teacher student hindi sex story 

हमारे कोलेज मैं प्रियंका मेम का पहेला दिन मुझे आज भी याद है, वह किसी कोलेज गर्ल के जैसी ही लाग रही थी और यही धोखा सभी को हुआ था, कितनो ने तो उस दिन इस इंडियन सेक्सी लड़की को पटाने के तरीके भी सोचे थे, लेकिन जब पता चला की यह तो नई नई पढाई ख़त्म कर के बनी हुई प्रोफ़ेसर है तो कितनो के दील टूट गए थे | वैसे इस इंडियन सेक्सी मेडम के क्लास को कोई मिस नहीं करता था और लड़के तो कभी नहीं….! एकाद महिना हो गया इस सेक्स बम को क्लास में पढ़ाते हुए और उसकी और मेरी अच्छी जमने लगी थी, वोह अक्सर मुझे अपने पर्सनल काम के लिए बुलाती थी, लेकिन आज तक इसने मुझे अपने घर नहीं बुलाया था किसी भी काम से….उसके सारे काम स्टाफ रुम स्टेशनरी वगेरह के ही रहेते थे | मैं मनोमन सोचने लगा बस एक बार चांस दे दो तुम्हारी इंडियन चूत बजा ना दूँ तो मेरा नाम भी शिव नहीं |

उस दिन सुबह सवेरे मेरी किस्मत खुल गई, प्रियंका मेडम ने मुझे केंटिन के बहार ही पकड़ा और कहा, “शिव आज मेरे घर आओगे. मुझे घर पे कुछ काम है ?”

मेरे मन मे लड्डू फूटने लगे थे, मैंने कहाँ, “जरुर मेडम, पर मैंने आपका घर नहीं देखा है….!”

प्रियंका मेडम, “एक काम करेंगे, शाम को मैं तुम्हे अपनी स्कूटी पर ही लिफ्ट दे दूंगी”

दोपहर ही हुई थी और मेरे लिए एक एक पल निकालना भारी था, मैंने बाथरूम जा के एक बार लंड को अपने हाथ में लेकर इंडियन पोर्नस्टार प्रियंका चोपरा और प्रियंका मेडम के साथ थ्रीसम के ख़याल करते हुए हस्तमैथुन कर दियां | लंड एक घंटे में फिर से मुझे हेरान कर रहा था, मैं सोच रहा था की कब मैं मेडम के साथ जाऊं और कोई चांस शायद निकल आयें | शाम उस दिन बहुत देर से हुई, आखिर कार शाम के कुछ 5 बजे प्रियंका मेडम लायब्रेरी से निकली और बोली, “चलो शिव”  Desi Chudai Story

उसने अपनी स्कूटी निकाली और वह अपने गोल गोल कूले इस स्कूटी की सिट पर रख के बैठ गई, मैं पीछे बैठ गया | मेरी नजर कभी उसके कूलों पर पड़ती तो कभी उसके कंधो पर, साड़ी के ब्लाउज़ के उपर के भाग में इस इंडियन टीचर के गोरे कंधे का भी अपना नशा था, मेरा लंड अब फिर से पेंट में ऊँचा हो रहा था | हम लोग मेईन मार्केट से होते हुए निकले और रास्ते में गर्दी होने के कारण कई बार ब्रेक लगाना पड़ा, मेरे दिमाग में शैतानी सूझी और मैं धीरे से आगे सरक गया, अब जब भी मेडम ब्रेक लगाती वह ना चाहते हुए भी मुझ से अपनी कमर टकरा देती थी | उसका घर आ गया और हम निचे उतरे, मेरा लंड मेरी जींस में भी काट रहा था |

घर में दाखिल होते ही मेडम ने कहा, “मेरे मम्मी डेडी दो दिन से इंदोर गए है और मेरे पीसी मेरे डेड के पीसी में शायद वायरस आ गया है तो मुझे वह ठीक करवाना था तूम से | मैंने तुम्हे अक्सर लायब्रेरी के पीसी पर देखा है और सोचा की तूम यह कर लोगे |”

मैंने कहा, “देखते है मेडम…!”

उसने मुझे पीसी पर से कवर हटा के दिया और मैं वही कुर्सी में बैठकर पीसी चालू कर के चेक करने लगा, स्केन के रिज़ल्ट देख के मेरी आँखे खुली रह गई, मेडम ने उस पे हिंदी सेक्स स्टोरीस और वीडियो ही नहीं बल्क़ि पोर्न वीडियो वाली साइटें भी खोली थी और उसके डेड ने की हुई सेटिंग की वजह से फायरवाल ने इंटरनेट डिसेबल कर दिया था | मुझे लगा, इसमें इस इंडियन प्रोफ़ेसर की क्या गलती है…..हरेक जवान लड़की को चुदाई के अरमान होते है | लेकिन जब मैंने इन लिंक्स को देखा तो चोंक जरुर गया क्यूंकि इनमे गेंगबेंग और डीपथ्रोट के भी लिंक थे | मैंने लिंक डिलीट नहीं किये लेकिन सेटिंग चेंज कर के पीसी को सही कर दिया | प्रियंका मेडम तभी चाय ले कर रूम में आई, मैंने उसे कहा, “यह हो गया है मेडम…आप चेक कर लो |”

मेडम निचे बैठी मेरी नजर अब उसके भारी इंडियन चुंचो पर थी, मैंने उसे कहा, “आप इंटरनेट ओन कर के देख लो”….मैं अभी भी उसके चुंचे ही देख रहा था….!

मेडम बोली, “शिव क्या देख रहे हो |”

मैं हडबडा गया और बोला, “कुछ नहीं मेडम”

अब मेडम जो बोली वह मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था, उसने कहा, “खोल के दिखाऊं”

मैं हक्काबक्का था पर मेडम तो सच कहे रही थी क्यूंकि उसने तुरंत अपना ब्लाउज मुझे दिखाते हुए साडी का पल्लू एक तरफ कर दिया, उसके जवान चुंचे 34 की साइज़ के तो होंगे ही और वह बदन पर एकदम लचे हुए थे | मेडम और मेरी आँखे मिली और उसकी आँखों में मुझे वासना का कीड़ा नजर आ गया | मैं भी अपनी जगह से उठ खड़ा हुआ और उसके समीप जा कर मैंने उसके बड़े बड़े चुन्चो को हाथ में लेकर दबाने लगा | मेडम का एक एक चुंचा ढाई किलो का था और मेरे हाथ में नहीं आ रहा था, मैं अब दोनों इंडियन देसी स्तन को हाथ में ले कर दबाने लगा | मेडम ने अब ब्लाउज खोल दिया और साड़ी और एक एक कर के अपने सारे कपडे उतार दियें, मेरा लंड पेंट के अंदर ही उछल पड़ा, क्या साफ़ चूत थी यारो हलकी गुलाबी और उसके उपर बड़े बड़े दो लिप्स | मेरी टीचर को दी चुदाई का मज़ा

मैंने अपना हाथ अब मेडम के चूत के उपर रख दियां और मैं उसकी चूत को सहेलाने लगा, मेडम ने अब धीमे से मेरे शर्ट के बटन बिलकुल सेक्सी तरीके से खोलने शरु कर दियें, उसका हाथ शर्ट खोलने के बाद उसका हाथ मेरे लंड के उपर जींस निकालेबिना आ गया और वोह उसे दबाते हुए बोली, “शिव बंदूक तो बड़ी है तुम्हारी, गोलियां निकली है कभी इस से…!”

मेडम को ऐसा बोलते सुनके मुझे अजीब और उत्तेजक दोनों एक साथ लगा, मैं कुछ बोला नहीं और उसे जोर से अपने आगोश में ले दबोचा, मेडम के सेक्सी इंडियन चुंचे मेरे छाती से टकराने लगे और मैं जैसे उन्हें अपनी छाती से दबाता था मेडम के मुहं से आहिस्ता आहिस्ता सिसकारियाँ निकलती थी | मैंने अब धीमे से अपनी जींस निकाल दी और प्रियंका मेडम तुरंत अपना हाथ मेरे लंड के उपर ले गई, उसने अंडरवेर उतारने का भी वक्त नहीं दिया और वह लंड को उपर से ही सहलाने लग पड़ी, मुझे उसके प्रत्येक स्पर्श से अलग ही रोमांच आ रहा था, अब मेडम ने मेरी चड्डी खोल दी और वह मेरे लंड को देख के मन ही मन हंस रही थी, उसे शायद आज अपनी साइज़ मिली थी क्यूंकि मेरा लंड बहुत ही तगड़ा था | मेडम ने मुहं खोल के आ किया और लंड को चोकोलेट बार की तरह चूसने लग गई |

आगे पढ़ने केलिए नीचेबाली NEXT बटनके उपरे क्लिक करो

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!